Register

Get App

---Advertisement---

IAS प्रीलिम्स अचूक रणनीति : UPSC Prelims Strategy

By viniias.com

Published on:

---Advertisement---

 IAS प्रीलिम्स अचूक रणनीति : UPSC Strategy 

दोस्तों हमने पिछले ब्लॉग में UPSC मेन्स के अचूक रणनीति के बारे में चर्चा किए थें, और आज हम UPSC प्रीलिम्स के अचूक रणनीति पर चर्चा करेंगे।

सबसे पहले हम ये जानेंगे की आखिर प्रीलिम्स यानी प्रारंभिक परीक्षा होता क्या है एवं इसका पाठ्यक्रम क्या हैं? तो चलिए ब्लॉग को शुरू करते है और UPSC प्रीलिम्स को एक नजर में देख लेते है।

IAS प्रीलिम्स : एक नजर में 

UPSC प्रीलिम्स या IAS प्रारंभिक परीक्षा UPSC एग्जाम का प्रथम चरण होता है। यह परीक्षा वस्तुनिष्ट यानी दिए गए विकल्प में से सही विकल्प का चुनाव करना पड़ता हैं। प्रारंभिक परीक्षा में 2 प्रश्न पत्र होते है और दोनो ही 200 अंकों के होते हैं।
प्रश्न पत्र 1 सामान्य अध्ययन के नाम से जाना जाता है एवं प्रश्न पत्र 2 CSAT के नाम से जाना जाता है। 

Prelims Syllabus : CLICK HERE

Mains Syllabus    : CLICK HERE

Prelims Strategy Hindi me
Prelims Strategy 


Prelims की तैयारी कैसे करे?

सबसे पहले कोई भी काम या किसी परीक्षा की तयारी के लिए एक रणनीति बनाना जरूरी होता है साथ ही उस एग्जाम के पास्ट ईयर का प्रश्न पत्र देखना उतना ही जरूरी होता है जितना एग्जाम के पाठ्य क्रम होता है।

तैयारी करने से पहले कुछ जरूरी बातें का ध्यान रखना चाहिए जो निम्मलिखित हैं—

  1. प्रारंभिक परीक्षा का पाठ्यक्रम देखें
  2. पिछले वर्षों का क्वेश्चन पेपर देखें
  3. फिर अपने अनुकूल रूटीन बनाएं
  4. इस एग्जाम के लिए जरूरी बुक को पढ़े
  5. हर टॉपिक को बारीक रूप से पढ़े 
  6. उसके बाद हर विषय के लिए नोट्स बनाएं
  7. फिर नोट्स का रिवीजन करे एवं मॉक टेस्ट दें।
अगर आप इस सभी बातें का ध्यान रखते है एवं पालन करते है तो मेरा वादा है की आप सफल होंगे इस एग्जाम में ।


प्रारंभिक परीक्षा की तैयारी हेतु योजना 


सामान्य अध्ययन पेपर —1 के लिए सुझाव एवं योजना
प्रारंभिक परीक्षा पेपर—1 (सामान्य अध्ययन) का सामना करने हेतु यह आवश्यक है दिन–प्रतिदिन के घटना क्रम से आप अवगत रहे जिससे आपको इससे संबंधित काफी प्रश्नों को हल करने में सहायता मिले। एसे प्रश्नों के मौलिक तथ्यों की स्पष्ठता होनी चाहिए। घटनों कर्मों के साथ तादम्य बनाएं रखें।

भारतीय राष्ट्रीय आंदोलन, भारतीय राजव्यवस्था, मौलिक अर्थव्यवस्था की समझ, भूगोल, विज्ञान तथा प्रौद्योगिकी इत्यादि का क्षेत्र इसमें समाहित है। 

प्रश्नों का उत्तर देते समय विशेषणात्मक सोच की जरुरी होती है। अतः मात्र दसवीं कक्षा की NCERT पाठयक्रम का अध्यन काफी नहीं होगा बल्कि गहरी जानकारी व अध्ययन की आवश्यकता होगी। 

पेपर –1 के 100 प्रश्नों को निम्न तीन श्रेणियों में विभाजित किया जा सकता है —
  1. बहुविकल्पी प्रश्न — एकल प्रतिक्रिया सही
  2. बहुविकल्पी प्रश्न — बहु प्रतिक्रिया सही 
  3. बहुविकल्पी प्रश्न — मिलान करना
विभिन्न क्षेत्रों से अनेकों प्रश्न पूछे जाते है जो समय समय पर परिवर्तित होते है। इसके लिए कोई निर्धारित नियम नहीं हैं।

सामान्यतः पूछे जाने वाले प्रश्नों की प्रकृति आधारभूत सिद्धांत, उनके अनुप्रयोग, तथ्यात्मक जानकारी तथा समसामयिक घटनाक्रम पर आधारित होती हैं।


Prelims Strategy Hindi me
Prelims Strategy 




सामान्य अध्ययन पेपर —2 के लिए रणनीति तथा सुझाव

बोधगम्यता, अमूर्त तर्कशक्ति, विश्लेषण क्षमता, प्रश्न समाधान–क्षमता, न्याय तथा निर्णय लेने की क्षमता का आकलन प्रारंभिक परीक्षा पेपर –2 में होता हैं। पेपर –1 से भिन्न जहां प्रश्नों की संख्या स्थिर खंड के लिए प्रमुख निर्णायक होती हैं, पेपर –2 में त्वरित मानसिक क्षमता की आवश्यकता होती हैं।


पेपर –2 के पाठ्य क्रम में सात विषयों का समावेश होती हैं जिनकी अभीक्षमतामक (Aptitude) होती हैं।

ये है सात विषयों का समावेश —
  1. बोधगम्यता
  2. पारस्परिक कौशल के साथ–साथ सूचनात्मक कौशल
  3. तार्किक योग्यता तथा विश्लेषणात्मक क्षमता
  4. निर्णय लेना समस्या समधान
  5. सामान्य मानसिक दक्षता
  6. संख्या ज्ञान ( संख्याए तथा उनके संबंध, परिणाम क्रम इतियादि।
  7. आंकड़ा प्रस्तूतिकरण  ( चार्ट, ग्राफ, सारणी, आंकड़ा, योग्यता इत्यादि CSAT 


 पेपर –2 में अच्छे अंको की प्राप्ती हेतु तैयारी के लिए कुछ निम्न सुझाव इस प्रकार हैं —

बोधगम्यता तथा अभिदक्षता के सबल पक्षों की पहचान करना।

सर्वप्रथम उन प्रश्नों को हल करना चाहिए जिनका उत्तर ठीक प्रकार मालूम हो 

किसी उलझे हुए प्रश्न में ज्यादा समय न दें

यदि किसी प्रश्न के उत्तर में कम से कम 70% की निश्चितता हो तभी उसे हल करें अन्यथा ऋणात्मक अंकन के कारण प्रश्न में ज्यादा समय न दें 

आप ज्यादा से ज्यादा मॉक टेस्ट को अपनाए जिससे आपको जानकारी प्राप्त होगी की विभिन्न प्रकार के प्रश्नों को हल करते समय किस प्रकार की त्रुटि हो रही हैं।

क्रम परिवर्तन तथा संयोजन, तार्किक दक्षता तथा संभव्यता से संबंधित प्रश्नों को हल करने का अभ्यास करें।


                               धन्यवाद!


UPSC का तैयारी कर रहे है एवं आप सभी एक अच्छा नोट्स खरीदना चाहते है तो देर किस बात की आप नीचे दिए गए BUY NOW आइकन पर क्लिक करें एवं मात्र ₹99 में नोट्स ऑर्डर करें —


viniias.blogspot.com


viniias.com

VINI IAS is a Best Educational Platform For Govt Exams. Here We will provide you Online Courses, Books, Govt Exams Guidance, Notes & E-books, Video Lecture And Some Study Material - Join Us Today

---Advertisement---

Related Post

आज जान लीजिए की IAS टॉपर नोट्स कैसे बनाते है एवं तैयार करते है : Some Tips For IAS Notes Writting

 आज जान लीजिए की IAS टॉपर नोट्स कैसे बनाते है एवं तैयार करते है : Some Tips For IAS Notes Writting  मेरे प्यारे साथियों आप सभी के लिए ...

IAS Mains अचूक रणनीति : UPSC Mains Strategy

 IAS Mains अचूक रणनीति : UPSC Mains Strategy  दोस्तों हमने पिछले ब्लॉग में UPSC प्रीलिम्स के अचूक रणनीति के बारे में चर्चा किए थें, और आज हम UPSC ...

IAS UPSC HINDI MEDIUM NOTES :

  विकास सर के द्वारा लिखा गया नोट्स जल्दी ऑर्डर करें मात्र ₹99 UPSC की तैयारी के लिए आपको बेहतर नोट्स होना जरूरी होता है, इसीलिए मैं आपके ...

UPSC क्या हैं पूरी जानकारी: UPSC Crack कैसे करें

 UPSC क्या हैं पूरी जानकारी : UPSC Crack कैसे करें ? UPSC प्रत्येक वर्ष निम्नलिखित सेवाओं में अधिकारियों के चयन हेतु इस परीक्षा का आयोजन करता है :  ...

Leave a Comment